पाकिस्तान द्वारा क़ब्ज़े में लिए गए विंग कमांडर अभिनन्दन के पिता पूर्व एयर मार्शल वर्थमान ने अपने पुत्र की सलामती के लिए और इस मुद्दे पर देश की जनता से मिले सहयोग के लिए एक भावुक पत्र लिखा है, जो कि News 24 online में इंग्लिश में प्रकाशित हुआ है, जिसका हिंदी अनुवाद नीचे दिया है, वो लिखते हैं कि :

‘हमें उस पर गर्व है !’

आप सबकी चिंताओं और कामनाओं के लिए धन्यवाद, मैं भगवान का शुक्रिया अदा करता हूँ कि अभी (अभिनन्दन) ज़िंदा है और घायल नहीं है, जिस तरह से आज उसने इतनी बहादुरी से बात की, उसे देखो … एक सच्चा सिपाही … हमें उस पर गर्व है।”

“मुझे यकीन है कि आप सभी के हाथ और आशीर्वाद उसके सिर पर हैं, उसकी सुरक्षित वापसी के लिए प्रार्थना करता हूं, मैं प्रार्थना करता हूं कि उसे प्रताड़ित नहीं किया जायेगा, और वो स्वस्थ शरीर और मन के साथ घर वापस लौटेगा।”

“ज़रुरत की इस घड़ी में हमारे साथ रहने के लिए आप सभी का धन्यवाद। हमें आपके समर्थन और ऊर्जा से शक्ति मिलती है।”

इस मामले में आज दिन में भारत सरकार ने पुष्टि की है कि पाकिस्तान ने वायुसेना के विंग कमांडर अभिनंदन वर्थमान को बंदी बना लिया है, सरकार ने पाकिस्तान से उन्हें जल्द से जल्द भारत भेजने की मांग की है।

हालांकि पाकिस्तान भारतीय पायलट अभिनन्दन का कुछ नहीं कर पाएगा क्योंकि युद्धबंदियों पर जिनेवा संधि के नियम लागू होते हैं, इस बीच, वायुसेना के पूर्व अधिकारियों ने विंग कमांडर की सकुशल वापसी की उम्मीद जताई है। पूर्व एयर चीफ मार्शल अरुप राहा ने कहा है कि जंग की स्थिति में यह एक कोलैटरल डैमेज है और उम्मीद है कि पाकिस्तान युद्धबंदी नियम के उल्लंघन की हिमाकत नहीं करेगा।

फोटो : News 24 online से साभार.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *