CRPF ने राज्य से बाहर देश के विभिन्न हिस्सों में रह रहे कश्मीरी छात्रों, कारोबारियों और अन्य कश्मीरियों की मदद के लिए ‘सीआरपीएफ मददगार’ नाम से 24 घंटे की हेल्पलाइन शुरू की है। CRPF हेल्पलाइन ने शनिवार को कश्मीर से बाहर रह रहे लोगों, छात्रों और व्यापारियों से कहा है कि यदि उन्हें उत्पीड़न का सामना करना पड़ता है तो वह उनसे संपर्क करें।

सीआरपीएफ हेल्पलाइन ने ‘मददगार’ हेल्पलाइन ने इस सिलसिले में एक ट्वीट कर कहा है कि इस समय राज्य से बाहर रह रहे कश्मीरी छात्र और आम लोग उसके ट्वीटर हैंडल @CRPFmadadgaar पर संपर्क कर सकते हैं, किसी भी कठिनाई या उत्पीड़न का सामना करने में त्वरित सहायता के लिए वे 24 घंटे टोल फ्री नंबर 14411 या 7082814411 पर एसएमएस कर सकते हैं।

पुलवामा में जवानों पर हुए हमले के बाद देश के अलग-अलग इलाकों में रह कर पढ़ाई करने वाले कश्मीरी छात्रों को स्थानीय लोगों के विरोध का सामना करना पड़ रहा है,कई जगहों से छात्रों के साथ मारपीट की ख़बरें भी आईं हैं, इस विरोध से परेशान कश्मीर के कई नेताओं ने केंद्र सरकार से उनकी सुरक्षा की मांग की है।

ज्ञातव्य है कि पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद देश के अलग-अलग हिस्से में रह रहे कश्मीरी छात्रों-नागरिकों को आम लोगों के रोष का सामना करना पड़ रहा है। शनिवार को ऐसा ही एक मामला अंबाला के मुलाना गांव से सामने आया था, जहां महर्षि मारकंडेश्वर यूनिवर्सिटी में पढ़ने वाले कश्मीरी छात्रों को 24 घंटे में गांव छोड़ने की चेतावनी दी गई थी। गांव के सरपंच का आरोप है कि इन छात्रों के तार आतंकी संगठनों से जुड़े हुए हैं। इसके अलावा भी कई जगह से ऐसे मामले सामने आए थे, जहां कश्मीरियों को डराया-धमकाया जा रहा है।