खबर इंडिया टीवी के अनुसार शेयर बाजारों में दो दिनों की गिरावट से निवेशकों को 4.14 लाख करोड़ रुपए का चूना लग चुका है। बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स मंगलवार को 509.04 अंक या 1.34 प्रतिशत लुढ़ककर 37,413.13 अंक पर बंद हुआ।

इसमें सोमवार को 467.65 अंक की गिरावट दर्ज की गई थी। लगातार दो दिन की गिरावट के कारण बंबई शेयर बाजार में सूचीबद्ध कंपनियों का बाजार पूंजीकरण 4,14,121.84 करोड़ रुपए घटकर 1,53,25,666 करोड़ रुपए पर आ गया।

इस गिरावट का अर्थ है कि शेयर धारकों ने मंगलवार को करीब 2 लाख करोड़ रुपए का नुकसान उठाया, जबकि सोमवार को भी करीब 500 अंकों की गिरावट के चलते शेयरधारकों को करीब 2 लाख रुपए का चूना लगा था। इस तरह अकेले दो दिन में शेयरधारकों की आंखों के सामने 4 लाख करोड़ रुपए स्वाह हो गए।

बाजार विशेषज्ञों का कहना है कि रुपए का अवमूल्‍यन बाजार के लिए सबसे बड़ी चिंता की बात है। इस बीच, विदेशी विनिमय बाजार में कारोबार के दौरान डॉलर के मुकाबले रुपया 72.73 के रिकॉर्ड न्यूनतम स्तर पर पहुंच गया। इसके अलावा व्‍यापार युद्ध के और अधिक गहरे होने की आशंका ने भी भारतीय बाजारों को कमजोर किया।