भारत में महिलाओं के साथ बढ़ते यौन अपराधों, बलात्कारों की वजह से ब्रिटेन और अमरीका ने भारत जाने वाली महिला पर्यटकों के लिए विशेष ‘भारत यात्रा एडवाइज़री’ जारी की है। जिसमें उन्हें भारत दौरे के समय बरती जाने वाली सावधानियों के बारे में बताया गया है।

Times Of India की खबर के अनुसार हैदराबाद की महिला डॉक्टर से गैंगरेप और जलाकर मार डालने वाली घटना और उन्नाव रेप केस के चलते देश में तो बेचैनी और आक्रोश है ही वहीँ विदेशों में भारत की छवि को कहीं न कहीं नुकसान पहुँच रहा है। इसका ताज़ा उदाहरण है वो यात्रा दिशा निर्देश (India travel advisory) जो ब्रिटेन और अमरीका द्वारा भारत जाने वाली अपने देश की महिला पर्यटकों के लिए ख़ास तौर पर जारी किये हैं।

ब्रिटेन सरकार ने भारत जाने वाले पर्यटकों विशेष रूप से महिलाओं के लिए अपनी वेबसाइट पर ‘भारत यात्रा एडवाइज़री’ जारी की है। ‘इंडिया ट्रैवल एडवाइस’ शीर्षक वाली सलाह में ब्रिटेन सरकार ने सुरक्षा बिन्दुओ का उल्लेख किया है जिन्हें महिला यात्रियों को भारत में यात्रा करते समय अपनानी चाहिए, भले ही वो एक समूह में यात्रा कर रही हों।

इस एडवाइज़री में सलाह दी गई है कि भारत में महिला पर्यटक असुरक्षित हैं और उनके साथ अपराध होने का खतरा है, एडवाइज़री में महिलाओं को स्थानीय ड्रेस कोड और रीति-रिवाजों का सम्मान करने के लिए भी कहा, दिन में किसी भी समय अकेले होने पर अलग-थलग पड़ने से बचने के लिए, सार्वजनिक परिवहन में अकेले यात्रा करने से बचने के लिए और बिना पिए हुए पेय को न छोड़ने के लिए निर्देश दिए गए हैं।

ब्रिटिश सरकार ने 26 नवंबर को अपनी वेबसाइट पर जारी भारत यात्रा एडवाइज़री’ में अपने नागरिकों को सलाह दी कि “बलात्कार और यौन हमले से पीड़ित पर्यटकों को पुलिस रिपोर्ट पर “जोर देना” चाहिए। पुलिस हालाँकि अंग्रेजी अनुवाद प्रदान करने के लिए बाध्य नहीं हैं, लेकिन पीड़ित को हस्ताक्षर करने से पहले अंग्रेजी में कथन को पढ़ा और समझाया जा सकता है।”

थॉमसन रॉयटर्स फाउंडेशन की ओर से जारी किए गए एक सर्वे के बाद महिलाओं के लिए एक असुरक्षित देश के रूप में भारत की धूमिल होती छवि के चलते ब्रिटिश सरकार ने 26 नवंबर को अपने नागरिकों के भारत में रहने या यात्रा करने के लिए “बलात्कार और यौन हमले ” के लिए एक विस्तृत सूचना पत्र जारी किया था।

इससे पहले मार्च 2019 में अमेरिकी सरकार की ‘भारत यात्रा एडवाइज़री’ (जो भारत को ‘Level 2 ‘ सुरक्षा पर रखती है) ने कहा थे कि “बलात्कार भारत में सबसे तेजी से बढ़ते अपराधों में से एक है। इसमें अत्यधिक सावधानी बरतने के लिए कहा गया है। महिलाओं के प्रति हिंसक अपराध, यौन हमले अधिकांश रूप से पर्यटक स्थलों और अन्य स्थानों पर हुए हैं।”

इस एडवाइज़री में यह भी बताया गया है कि भारतीय अधिकारियों ने महिलाओं के साथ यौन अपराध और बलात्कारों को भारत में सबसे तेजी से बढ़ता अपराध बताया है।