25 – 25 हज़ार रूपये बैंक खातों में लोगों की जानकरी के बिना अपने आप जमा होने लगें तो लोग चौंकेंगे ही, ये घटना सच में हुई है और भारत में ही हुई है, पश्चिम बंगाल के बर्धमान जिले के 3 बैंकों के खाताधारकों के अकाउंट में अपने आप कहीं से 25-25 हजार रुपए जमा हुए है, ये देख कर लोग हैरान हैं।

ज़ी न्यूज़ के अनुसार पूर्वी बर्धमान जिले की केतुग्राम 2 नंबर पंचायत समिति के शिबलून, बेलून, टोलाबाड़ी, सेनपाड़ा, अम्बालग्राम, नबग्राम और गंगाटीकुरी जैसे कई इलाकों में लोगों के बैंक खातें में पैसे आ रहे है।

हालांकि अभी तक किसी को भी नहीं पता है कि उनके अकाउंट में पैसे कहां से आए। हैरानी की बात यह है कि पूर्वी बर्धमान जिले की केतुग्राम 2 नंबर पंचायत समिति के शिबलून, बेलून, टोलाबाड़ी, सेनपाड़ा, अम्बालग्राम, नबग्राम और गंगाटीकुरी जैसे कई इलाकों में लोगों के बैंक खातों में 2 बार पैसे आ चुके हैं।

सूत्रों से जानकारी मिली है कि बंगाल के बर्धमान जिले में 3 बैंकों में लोगों के अकाउंट में किसी अनजान शख्स ने 25-25 हजार रु. जमा करा दिए हैं। पूर्वी बर्धमान जिले की केतुग्राम 2 नंबर पंचायत समिति के शिबलून, बेलून, टोलाबाड़ी, सेनपाड़ा, अम्बालग्राम, नबग्राम और गंगाटीकुरी जैसे कई इलाकों में लोगों के बैंक खातों में पैसे जमा हो चुके हैं। हैरानी की बात ये है कि ऐसा एक बार नहीं बल्कि 2-2 बार हुआ है।

जितने भी लोगों को पैसे मिले हैं उनके खातों में 10 हजार या 25 हजार तक की रकम आई है। यह पैसे केवल उन ही लोगों के खातों में आ रहे हैं जिनका अकाउंट यूको बैंक, यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया और एसबीआई में है। मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक, बैंकों से इस बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि इस बारे में कुछ भी बताना संभव नहीं हो पाएगा। जब से खातों में पैसे आए हैं तभी से बैंकों में पैसे निकालने के लिए लोगों की लंबी लाइनें लगनी शुरू हो गई हैं।

लोगों के खातों यह पैसा एनईएफटी (NEFT) के जरिये आ रहा है. इस बारे में केतुग्राम के विधायक शेख शाहनवाज ने तंज कसते हुए कहा कि ‘प्रधानमंत्री ने कहा था की पैसे आएंगे हो सकता है ये वहीं पैसे हो’। ऐसे में कुछ ग्रामवासी भी इसे सरकार की तरफ से भेजी गई रकम मान रहे हैं. हालांकि इसके पीछे की पूरी सच्चाई क्या है इस बारे में प्रशासन भी अनभिज्ञ है. कटवा सब डिवीजन के अधिकारी सौमेन पल ने इस बारे में पूछने पर कहा कि अभी इसके बारे में जांच करनी होगी।

बैंक के बाहर पैसा निकालने के लिए ग्रामवासियों की बैंक में भीड़ लगी हुई है. मंगलवार सुबह से शिबलून गांव के एसबीआई कियोस्क में जाकर ग्रामवासियों को पता चला कि उनके बैंक अकाउंट में खुद-ब-खुद पैसे आ रहे हैं. इस पर बैंक अधिकारियों समेत सभी लोग हैरान है।

इस बारे में बैंक अधिकारियों ने बताया कि कई बार टेक्नीकल गलती की वजह से खाते में पैसे आ जाते हैं।

(फोटो प्रतीकात्मक है)