जापान की एक होटल ने 130 रोबोट्स को नौकरी से निकाला।

टेक्नोलॉजी और अविष्कारों के लिए दुनिया में मिसाल बने जापान में रोबोट्स को काफी समय से कई कामों में इस्तेमाल किया जाता रहा है, निजी या घरेलू कामों से लेकर व्यापारिक कार्यों तक में रोबोट्स सफलतापूर्वक काम कर रहे हैं, मगर अब खबर आयी है कि ये रोबोट्स भी गड़बड़ी करने लगे हैं इसलिए इन्हे नौकरियों से निकाला जाने लगा है।

Daily Mail UK की खबर के अनुसार जापान के एक होटल Henn-na “Strange ने अपने मेहमानों को बेहतरीन सुविधा देने के लिए 243 रोबोट्स को नौकरी पर रखा था लेकिन अब यह होटल इनमें से लगभग आधे रोबोट्स को नौकरी से निकाल रहा है, होटल का कहना है कि रोबोट्स को काम आसान करने के लिए रखा गया था लेकिन इनकी वजह से समस्या और बढ़ गई है।

जापान में इस Henn-na “Strange होटल चैन का पहला होटल 2015 में नागासाकी में खोला गया था, जिसे दुनिया का पहला रोबोट्स सर्विस देने वाले होटल के रूप में गिनीज़ बुक में जगह दी गयी थी।

होटल में आने वाले ग्राहकों को शिकायत थी कि ये रोबोट्स रात को खर्राटे लेने वाले ग्राहकों को आकर उठा देते थे, होटल में काम करने वाले ये रोबोट फ्रंट डेस्क, क्लिनर्स, पोर्टर्स और इन-रूम असिस्टेंट के तौर पर काम करते थे।

होटल प्रबंधन ने फ्रंट डेस्क पर रखे गए डायनासोर और मानव जैसे दिखने वाले रोबोट को हटाने का फैसला किया क्योंकि वे ग्राहकों को एयरपोर्ट या लोकल चीजों के बारे में जानकारी देने में, पासपोर्ट या अन्य दस्तावेजों की फोटोकॉपी जैसा काम करने में अस्मर्थ थे। दो रोबोट्स को गेस्ट का सामान पहुंचाने के लिए रखा गया था लेकिन ये होटेल के 100 में से सिर्फ 24 कमरों तक ही पहुंच पाते थे और बारिश या बर्फबारी पड़ने पर बंद हो जाते थे। इस लिए इनकी जगहों पर इंसानों को लगा दिया गया है।

शुक्र है इन रोबोट्स में नौकरी से निकालने पर विरोध करने या हड़ताल करने जैसा प्रोग्राम नहीं इंसटाल किया गया, वर्ना नौकरी से निकाले गए ये 130 रोबोट्स होटल के बाहर हंगामा करते नज़र आते।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close