मेरठ की सरधना कस्बा निवासी दसवीं की छात्रा को चार शोहदे काफी समय से परेशान कर रहे थे। आपबीती बताने पर छात्रा के परिजनों ने आरोपितों के घर पहुंचकर विरोध जताया, लेकिन उन पर कोई असर नहीं हुआ। पीड़ित परिजनों के मुताबिक आरोपितों ने छात्रा पर मानसिक दबाव बनाकर उसे मोबाइल दे दिया। छात्रा ने मोबाइल परिजनों को सौंप दिया। 17 अगस्त की सुबह आरोपित छात्रा के घर पहुंचे और मारपीट के बाद केरोसिन उड़ेलकर उसको आग लगा दी। छात्रा को अस्पताल में भर्ती कराया था।वहीं पर छात्रा ने इन्साफ के लिए ये पोस्टर लगवाए थे।

इन पोस्टर्स में वो SSP मेरठ से लेकर मोदी जी और देशवासियों से अपील कर रही है कि उसकी असहनीय पीड़ा को महसूस कीजिये, वो भी आपकी ही बेटी की तरह है, इन पोस्टर्स में आप इस नाबालिग बच्ची और उसके माता पिता की लाचारी को प्रतिबिंबित होता देख सकते हैं।

पुलिस के अनुसार इस मामले में छह लोगों को नामजद कराया गया, जिसमें मंगलवार तक मुख्य आरोपित समेत चार लोग गिरफ्तार हो चुके हैं। मंगलवार को इस मामले को लेकर विभिन्न संगठनों ने धरना-प्रदर्शन किया था।

फोटो साभार : गूगल