लंदन के ब्रायनस्टन स्क्वायर-लंदन में स्थित कथित फ्लैट जिसके बारे में ED रोबर्ट वाड्रा से पूछताछ कर रही है, वो रोबर्ट वाड्रा का नहीं है बल्कि एक ब्रिटिश दंपत्ति का है।

India Today In ने ये दावा किया है, इंडिया टुडे फ्लैट के मूल रजिस्ट्री दस्तावेजों तक पहुंचा है, जिसकी कागजी कार्रवाई में ये उल्लेख किया गया है कि फ्लैट एक ब्रिटिश दंपत्ति का है।

रॉबर्ट वाड्रा मनी-लॉन्ड्रिंग मामले में बुधवार और गुरुवार को लगातार दो दिन ईडी के सामने पेश हुए। ईडी ने आरोप लगाया था कि उसे लंदन में विभिन्न नई संपत्तियों के बारे में जानकारी मिली थी जो कथित रूप से उसकी थीं। ईडी के अनुसार, वाड्रा की लन्दन स्थित संपत्तियों में 50 और 40 लाख रुपये के दो घर, छह अन्य फ्लैट और अन्य शामिल हैं।

इंडिया टुडे टीवी बुधवार को वाड्रा के कथित फ्लैट के बारे में जानने के लिए लंदन के ब्रायनस्टन स्क्वायर पहुंचा था। यह पाया गया कि 12 एलर्टन हाउस, जिसे ईडी ने रॉबर्ट वाड्रा के होने का दावा किया था, एक परिवार के स्वामित्व में है, लेकिन खाली पड़ा हुआ था, ब्रायनस्टन स्क्वायर पर विभिन्न फ्लैट हैं। इंडिया टुडे ने पाया कि इस क्षेत्र में एक फ्लैट, जिसकी कीमत 2001 में 10 करोड़ रुपये थी, अब 23-25 ​​करोड़ रुपये के या ज़्यादा भी हो सकती है।

यह बताया गया है कि ईडी के पास फरार रक्षा डीलर संजय भंडारी से जुड़े दस्तावेज़ों के आधार पर रोबर्ट वाड्रा से पूछताछ की जा रही है।

सूत्रों ने कहा कि वाड्रा ने मामले के जांच अधिकारी के साथ दस्तावेजों को भी साझा किया था और अधिकारियों को आश्वासन दिया था कि बाक़ी भी जब उन्हें मिल जायेंगे तो उपलब्ध कर दिए जायेंगे।

बुधवार को मामले में पहली बार उनसे साढ़े पांच घंटे तक पूछताछ की गयी थी। उनके वकील ने बुधवार रात कहा कि वाड्रा ने उनसे पूछे गए हर सवाल का जवाब दिया था। रॉबर्ट वाड्रा को शुक्रवार (8 फरवरी) को सुबह 10.30 बजे ईडी के सामने फिर से बुलाया गया।

रोबर्ट वाड्रा के खिलाफ ईडी का मामला लंदन स्थित संपत्ति की खरीद पर मनी लॉन्ड्रिंग के आरोपों से संबंधित है, जो ब्रायनस्टन स्क्वायर में 1.9 मिलियन GBP (ब्रिटिश पाउंड) के बराबर है, जो कथित तौर पर उनके स्वामित्व में है।

एजेंसी ने दिल्ली की एक अदालत को बताया कि उसे लंदन में विभिन्न नई संपत्तियों की जानकारी मिली है जो वाड्रा की हैं। इनमें दो घर शामिल हैं, एक का मूल्य 5 मिलियन GBP और दूसरे का मूल्य 4 मिलियन GBP, छह अन्य फ्लैट और अधिक संपत्ति है।

वाड्रा ने अवैध विदेशी संपत्ति रखने के आरोपों से इनकार किया है और उन्हें उनके खिलाफ राजनीतिक साजिश करार दिया है। उन्होंने कहा कि राजनीतिक नाकामी को छुपाने के लिए उन्हें परेशान किया जा रहा है।

वाड्रा के वकील केटीएस तुलसी ने गुरुवार को ईडी कार्यालय के बाहर संवाददाताओं से कहा कि उनके मुवक्किल ने कोई गलत काम नहीं किया है।

रोबर्ट वाड्रा के राजस्थान के बीकानेर में भूमि घोटाले से संबंधित एक कथित मनी-लॉन्ड्रिंग मामले में जयपुर में 12 फरवरी को ईडी के सामने पेश होने की उम्मीद है। राजस्थान उच्च न्यायालय ने उन्हें मामले में एजेंसी के साथ सहयोग करने का निर्देश दिया था।