शहादत पर राजनीति नहीं करने की वकालत करने वाली भाजपा खुद ही पुलवामा आतंकी हमले के बाद देश में चली लहर को वोटों में परिवर्तित करने में जुट रही है।

Indian Express में प्रकाशित खबर के अनुसार गुजरात के BJP नेता और पार्टी प्रवक्ता भरत पंड्या ने पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा कि पुलवामा हमले में 40 जवानों के शहीद होने के बाद देश में जो इस समय ‘राष्ट्रवादी लहर’ चल रही है हमें इसे वोटो में तब्दील करना होगा। उन्होंने कहा कि आप लोगों ने देखा होगा कि पुलवामा हमले के बाद सभी लोग आपसी मतभेद भुलाकर एक साथ राष्ट्रवाद की भावना के साथ एकजुट हो गए है।

गुजरात BJP के प्रवक्ता भरत पंड्या सोमवार को वड़ोदरा में बूथ-लेवल कार्यकर्ताओं की बैठक में मौजूद थे। इस दौरान उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर के पुलावामा में आतंकी हमले के बाद देश में एक राष्ट्रवाद की लहर चली है। लोगों ने रैली और विरोध-प्रदर्शन के माध्यम से देश के प्रति अपने प्रेम को दिखाया है।

पंड्या ने कहा कि लोग देर रात तक जागकर देख रहे हैं कि पाकिस्तान के खिलाफ क्या कार्रवाई की जा रही है। इसके बाद उन्होंने कहा कि संपूर्ण राष्ट्र राष्ट्रवाद की भावना के साथ एक साथ खड़ा हुआ है इसलिए यह हमारी जिम्मेदारी है कि हम इस एकजुटता को वोट में परिवर्तित करें।

बीजेपी नेता पंड्या ने पूर्व की मनमोहन सरकार पर सवाल उठाते हुए कहा कि मुंबई हमले के दौरान देश में क्या माहौल था ? संसद में किस तरह के सवाल पूछे जाते थे? उन्होंने कहा कि जब आतंकी वारदातों में लोगों को पूछताछ के लिए उठाया जाता था तो किस तरह के सवाल खड़े किए जाते थे लेकिन अब हालात बदल चुके है। पुलवामा हमले के बाद कई सख्त कदम उठाये गए हैं।