राजस्थान केअलवर को फ़र्ज़ी गौरक्षकों ने लिंचिंस्तान में बदल कर रख दिया है, पहलू खान की निर्मम हत्या के बाद रकबर खान की हत्या और इन हत्यारों को मिले राजनैतिक रंरक्षण के चलते इनके हौंसले अभी भी बुलंद हैं, भले ही सरकार बदल गयी हो।

Mirror Now की खबर के अनुसार मामला अलवर (ग्रामीण) के भगेरी खुर्द इलाके का है जहाँ ग्रामीणों को सूचना मिली थी कि एक मिनी ट्रक में में गायों को ले जाया जा रहा है, जिसके बाद भीड़ ने ट्रक को रोका जिसमें सगीर खान कथित तौर पर अपने साथियों के साथ गाय ले जा रहा था।

लोगों ने गायों को छुड़ाकर इन लोगों की पिटाई कर दी जिसमें सगीर खान घायल हो गया। फिलहाल सागीर की हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है। पुलिस पूरे मामले की जांच में जुट गई है।

इसे एक सांत्वना ही कह सकते हैं कि इन गौरक्षक गुंडों ने सगीर खान की पहलू खान और रकबर खान की तरह पीट पीट कर जान नहीं ली, अब जबकि सत्ता बदल गयी है, तो सरकार को चाहिए कि अलवर इलाक़े में पनपते इस खूनी नेक्सस को रडार पर लेकर सम्बंधित गुंडों को इनके किये की न सिर्फ सजा दिलाये बल्कि पहलू खान और रकबर खान से सम्बंधित मामलों को भी टेबल पर लेकर पीड़ितों को न्याय दिलाये।

राजस्थान की जनता ने भाजपा सरकार के इन एजेंडों के खिलाफ कांग्रेस को जनादेश दिया है, उम्मीद है कि राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और उप-मुख्यमंत्री सचिन पायलट इस गंभीर मुद्दे पर प्रारम्भ से ही नज़र रख कर इस नेक्सस को तोड़ेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *