अपने कारनामों से दुनिया को हैरान करने वाली वंडर गर्ल – 7 साल की रिफाह तस्कीन।

Read Time4Seconds

जानिये एक 7 साल की बच्ची रिफाह तस्कीन से जिसने इतनी छोटी से उम्र में कई बड़े कारनामे कर अपना नाम ‘गोल्डन बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकार्ड्स’ में अपना नाम दो बार दर्ज कराया है।

मैसूर के बन्नीमंटाप में सेंट जोसेफ स्कूल की दूसरी कक्षा की छात्रा रिफाह का फोटो राहुल गाँधी के साथ मीडिया और सोशल मीडिया में लोग शेयर कर रहे हैं, इसकी वजह है कि उसने इतनी छोटी सी उम्र में पायलट ट्रेनिंग ली है और अग्नि ऐरो स्पोर्ट्स एडवेंचर अकादमी से एयरक्राफ्ट उड़ाकर ‘गोल्डन बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकार्ड्स’ में अपना नाम दर्ज कराया है।

रिफाह के वालिद ताज रिफाह तस्कीन ने अपने टवीटर हैंडल से ये फोटो ट्वीट कर इस उपलब्धि की ख़ुशी सभी शेयर करते हुए ये फोटो Tweet किया है।

ये पहला मौक़ा नहीं है जब इस नन्ही चैंपियन ने ऐसा रिकॉर्ड अपने नाम किया है, इससे पहले रिफाह ने 5 नवंबर 2018 को ही 17 तरह की गाड़ियां चलाकर एक नया रिकॉर्ड भी बनाया था, News Karnataka की खबर के अनुसार रिफाह ने ईदगाह मैदान में हज़ारों की भीड़ के सामने रिफाह ने 17 तरह की गाड़ियां चलाकर लोगों को चकित कर दिया था, इन 17 गाड़ियों में 10 तरह की कारें और एसयूवी जैसे महिंद्रा बोलेरो, टाटा एस, महिंद्रा स्कॉर्पियो, टॉयोटा फॉर्च्युनर, मारुति 800, मारुति वैन, मारुति एस्टीम, जेन, सैंट्रो, फोर्ड, वेरना, इंडिका के साथ-साथ स्पोर्ट्स कार क्वॉड बाइक लोडर और 10 पहिये वाले ट्रोले भी चलाये थे।

हालांकि रिफाह की उम्र अभी काफी कम है इसलिए उसे सरकार की अनुमति के लिए इंतजार करना पड़ा। पिता ताजुद्दीन ने उसके लिए सीट को मोडिफाई किया ताकि पैर आसानी से ब्रेक और एक्सलरेटर तक पहुंच सके।

मैसूर के बन्नीमंटाप में सेंट जोसेफ स्कूल की दूसरी कक्षा की छात्रा रिफाह अपने पिता को अपना प्रेरणास्रोत मानती है। उसके पिता ताजुद्दीन कभी रेसर हुआ करते थे। ताजुद्दीन बताते हैं कि उनका सपना एक रेसर बनने का था, लेकिन कई वजहों से वे ऐसा नहीं कर सके। अब वे अपनी बेटी को इंटरनेशनल रेसर बनाने का सपना देख रहे हैं। फिलहाल वह टाइल्स का बिजनेस करते हैं, वहीं रिफाह की मां एक सरकारी स्कूल में अध्यापिका हैं।

न्यूज कर्नाटक को दिए एक इंटरव्यू में रिफाह ने कहा अपने माता-पिता और आगे की योजनाओं के बारे में बात की। उसने कहा, ‘यह सब मेरे पापा की बदौलत संभव हुआ। उन्होंने मेरा उत्साह बढ़ाया और हर एक कदम पर मेरा साथ दिया। यही वजह है कि मैं इतना कुछ हासिल कर पाई।

मैं अभी बहुत कुछ करना चाहती हूं और अपने माता-पिता को गौरवान्वित करवाना चाहती हूं। आने वाले समय में मैं कार रेसिंग में हिस्सा लूंगी।’ 7 साल की उम्र में दुनिया को हैरान कर देने वाली रिफाह बड़ी होकर फाइटर पायलट बनना चाहती हैं। वैसे भी जिसके इरादे मजबूत होते हैं उसके लिए कोई भी मंजिल मुश्किल कहां होती है।

रिफाह तस्कीन के लिए फेसबुक पर एक पेज भी बनाया गया है, आप इस Link पर क्लिक कर उस पेज और उस वंडर गर्ल की उपलब्धियां देख पढ़ सकते हैं।

 

0 0
Avatar

About Post Author

0 %
Happy
0 %
Sad
0 %
Excited
0 %
Angry
0 %
Surprise

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close