राजनेताओं के लिए शहादतें कितना महत्त्व रखाती हैं इसका सबूत इस वीडियो में देख सकते हैं, ये वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है जो कि 16 फ़रवरी का बताया जा रहा है, जिसमें BJD विधायक देबाशीष सामंत्रे पुलवामा आतंकी हमले में शहीद हुए CRPF जवान मनोज कुमार बेहरा के अंतिम संस्कार में शहीद के चाचा चैतन्य बेहेरा को बुरी तरह से अर्थी के पास धक्का देकर बैठाते नज़र आ रहे हैं।

Free Press Journal ने इस वीडियो को शेयर करते हुए लिखा है कि इस वीडियो में BJD विधायक देबाशीष सामंत्रे को धक्का देते हुए देखा जा सकता है उन्होंने उस आदमी को इतनी जोर से धक्का दिया कि बूढ़ा नीचे गिर गया।

वहीँ News – 18 ने इस घटना पर विस्तार से लिखते हुए कहा है कि शहीद CRPF जवान मनोज बेहरा के परिजनों के साथ उनके दुर्व्यवहार का एक वीडियो वायरल होने के बाद BJD विधायक देबाशीष सामंत्रे के खिलाफ लोगों का गुस्सा फूट पड़ा है।

महिला कांग्रेस ने कटक के एक पुलिस स्टेशन में इस बाबत शिकायत दर्ज की है, एक RTI कार्यकर्ता ने राज्य की राजधानी के एक पुलिस स्टेशन में BJD विधायक के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है।

वहीँ देबाशीष सामंत्रे ने इस मामले में सफाई देते हुए कहा है कि “मैंने गार्ड ऑफ़ ऑनर के दौरान केंद्रीय मंत्री जुएल ओराम को धक्का देने के बाद उस आदमी को (शहीद बेहरा के चाचा) केवल बैठने के लिए कहा था। किसी की भावनाओं को आहत करने का कोई इरादा नहीं था। मैं इसके लिए माफ़ी मांगता हूँ, इस पर राजनीति न की जाये।”

वहीँ कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पंचानन कानूनगो ने पुलवामा शहीद के परिजनों के प्रति देबाशीष सामंत्रे के अपमानजनक व्यव्हार के लिए सामंतराय को गिरफ्तार करने की मांग की और मुख्यमंत्री नवीन पटनायक से माफी की मांग की है।

BJD के प्रवक्ता पीके देब ने कहा, “विधायक पहले ही माफी मांग चुके हैं और हमारी पार्टी इस पर विचार करेगी कि कार्रवाई की जाए या नहीं।”