ऑस्ट्रेलियाई सीनेटर फ्रेजर अनिंग के सिर पर अंडा फोड़ने वाला विल कोनोली सोशल मीडिया पर बना हीरो, फण्ड रेजिंग कर लोगों ने जुटाए 47,000 डॉलर्स।

Read Time10Seconds

न्यूज़ीलैंड में मारे गए 50 लोगों की मौत के बाद एक प्रेस कांफ्रेंस में इस्लामॉफ़ोबिक टिपण्णी करने वाले ऑस्ट्रेलियाई सीनेटर फ्रेजर अनिंग के सिर पर अंडा फोड़ने वाला 17 वर्षीय युवक विल कोनोली सोशल मीडिया पर हीरो बन गया है और लोग उसकी तारीफ #eggboy हैशटैग के साथ कर रहे हैं।

सीनेटर फ्रेजर अनिंग के सिर पर अंडा फोड़ने के बाद पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया था, मगर बाद में छोड़ दिया गया, इस घटना पर विल कोनोली का कहना है कि मैंने जो किया है उसका बिलकुल भी पछतावा नहीं है।

विल कोनोली इंटरनेट सेंसेशन बन गया है, एग बॉय के नाम से दुनिया में लोग उसे पहचान रहे हैं, उसका फोटो टी शर्ट पर प्रिंट होने लगे हैं, और उसको क़ानूनी मदद के लिए Go fund me पर फण्ड भी जुटाया जाने लगा  है।

View this post on Instagram

Hello everyone! I have put the design of Will Connolly the Eggboy now on a tshirt through @threadless and proceeds of it will be donated to the official Christchurch Shooting Victims Fund, and perhaps another charity after I do some more research. His legal defense fund is an obvious choice. The link for the tee is in my bio and whenever I receive the funds (once a fortnight apparently) I will post proof of the donation in my instagram story. I’ve been trying to reach Will but don’t know how to get to him — Will if you see this, email me! I hope this is ok with you. You’re a legend. Also thanks to @obeygiant for the obvious stylistic influence. #eggboy #willconnolly #christchurch

A post shared by Sebastian White (@sebi.white) on

म्यूजिशियन उसे अपने हर शो के लाइफ टाइम टिकट दे रहे हैं, लोग उसे एक VIP की तरह सम्मान दी लगे हैं, तुर्की के एक प्रोफ़ेसर ने उसे अपना मेहमान बनाने के लिए आमंत्रित किया है और उसके लिए हवाई टिकट सहित दस दिन तक फाइव स्टार मेहमान नवाज़ी की सुविधाएँ ऑफर की हैं।

वही कनाडा और वेल्स में भी विल कोनोली के बालिग होने के बाद उसके लिए Drinks (पीना) आजीवन फ्री कर दिया है। इसके अलावा भी कई संस्थाओं ने उसे मुफ्त आजीवन सदस्य्ता प्रदान कर दी है।

विल कोनोली को किसी भी तरह की आर्थिक मदद के लिए Go fund me पर खबर लिखने तक 47,106 डॉलर्स (लगभग 32 लाख रु.) जमा हो चुके थे, लक्ष्य 50,000 डॉलर का ही जो शायद अब तक पूरा हो चुका होगा। Go fund me की वेब साइट पर जमा होती रक़म देखी जा सकती है।

मोहब्बत ज़िंदाबाद !

नफरतों का सफर दो क़दम चार क़दम।

तुम भी थक जाओगे, हम भी थक जायेंगे।।

0 0
Avatar

About Post Author

0 %
Happy
0 %
Sad
0 %
Excited
0 %
Angry
0 %
Surprise

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close