क्राइस्ट चर्च आतंकी हमले में 50 लोगों के मारे जाने के बाद न्यूज़ीलैंड सरकार और वहां की जनता ने पीड़ितों का दुःख बाँटने की एक से बढ़कर एक मिसाल पेश की है, इसी कड़ी में आज शुक्रवार को अल-नूर मस्जिद के बाहर दो मिनट के मौन के बाद देशभर में अज़ान और ख़ुत्बे का प्रसारण किया गया और इस नमाज़ में PM जेसिंडा आर्डर्न ने भी हिस्सा लिया।

वहीँ Huffington Post की खबर के अनुसार न्यूज़ीलैंड की महिलाओं ने देश के मुसलमानों के साथ एकजुटता दिखाने के लिए स्कार्फ से अपने सर ढंके, आज जुमे की नमाज़ के वक़्त न्यूज़ीलैंड की हर मस्जिद के बाहर गैर मुस्लिमों ने इकठ्ठा होकर ह्यूमन चेन बनाई और महिलाएं स्कार्फ से अपने सर ढँक कर इस एकजुटता में शामिल हुईं।

PM जेसिंडा आर्डर्न ने भी आज हेग्ले पार्क में जुमे की नमाज़ के वक़्त काले रंग के स्कार्फ से अपना सर ढंका हुआ था, वहीँ उनके साथ कई और महिलाएं भी अपने सर ढँक कर जुमे की नमाज़ के लिए आये मुसलमानों का हौंसला बढ़ाने हेग्ले पार्क में आईं थीं।

वहीँ न्यूज़ीलैंड की एक महिला पुलिस अफसर की स्कार्फ पहने एक तस्वीर सोशल मीडिया पर तेज़ी से वायरल हो रही है, इस महिला पुलिस अफसर का नाम मिशेल इवांस है जो कि क्राइस्ट चर्च मेमोरियल क़ब्रिस्तान के बाहर तब ड्यूटी कर रही थी जब अंदर हमले में मारे गए लोगों को दफनाया जा रहा था।

पुलिस की वर्दी पहने अपने सर को स्कार्फ से ढंके इस महिला पुलिस अफसर मिशेल इवांस ने अपनी वर्दी पर लाल गुलाब का फूल भी खिराजे अक़ीदत के तौर पर लगाया हुआ था, इस फोटो को न्यूज़ीलैंड स्टफ न्यूज़ के फोटोग्राफर अल्डेन विलियम ने लिया था और बाद में इसे सोशल मीडिया पर शेयर कर दिया था, देखते ही देखते ये फोटो हज़ारों की संख्या में शेयर किया गया।

इसी के साथ न्यूज़ीलैंड की टेलीविज़न दुनिया की महिला स्टार्स जिसमें टोनी स्ट्रीट, लारा मेक गोल्डरिक, ब्रॉडी केन और उनकी सुप्रसिद्ध टीम की महिला सदस्यों ने भी मुस्लिम महिलाओं के साथ एकजुटता दिखाने के लिए स्कार्फ से अपने सर ढंके और इस मुहिम को इंस्टाग्राम पर #scarvesinsolidarity हैशटैग के साथ शेयर किया।

बारूद और नफरत के ढेर पर बैठी दुनिया में न्यूज़ीलैंड की प्रधानमंत्री और वहां की जनता एकजुट होकर नफरत के खिलाफ और पीड़ितों के समर्थन में जिस तरह से उठ खड़ी हुई है वो दुनिया में मिसाल है।