किसी की मदद करने का दिखावा करना और चुपचाप मदद करने में बहुत फ़र्क़ होता है, कांग्रेस की नवनियुक्त महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा मंगलवार को भारत लौट आईं हैं, उन्होंने लोकसभा चुनाव के मद्देनजर यूपी में कांग्रेस की रणनीति पर आयोजित मीटिंग में हिस्सा लिया जिसमें राहुल गाँधी सहित ज्योतिरादित्य सिंधिया भी शामिल थे।

मगर राहुल गांधी के आवास 12 – तुगलक लेन पर हुए इस बैठक में शामिल होने से पहले प्रियंका गांधी औरंगजेब रोड स्थित झुग्गी बस्ती में गई थीं जहाँ एक दिव्यांग आशीष अपने परिवार के साथ रहता है, आशीष पोलियो से पीड़ित एक दिव्यांग बच्चा है जिसका प्रियंका गांधी ने ही एक NGO के जरिए इलाज कराया है, वो अपने पैरों पर खड़ा नहीं हो सकता, आशीष प्रियंका को अपना दोस्त कहता है।

जब मीडिया को प्रियंका के झुग्गी में जाने की खबर मिली तो वो लोग बाद में झुग्गी बस्ती में उस परिवार से मिलने पहुंचे, झुग्गी वालों के अनुसार प्रियंका आशीष के लिए गिफ्ट लाती रहती हैं, आशीष के पिता सुभाष यादव ने बताया कि प्रियंका हर महीने-दो महीने पर हमसे मिलने आती रहती है, वो हम लोगों के साथ समय बिताती है।

ANI ने भी इस खबर को tweet किया है, वहीँ आशीष के पिता ने आगे बताया कि प्रियंका पिछले तीन-चार साल से आशीष के इलाज में हमारी मदद कर रही है, प्रियंका का यह काम उनकी मानवीयता का प्रतीक है।

खबरों के अनुसार प्रियंका वहां करीब आधे घंटे तक रुकी। प्रियंका गांधी के इस काम को सोशल मीडिया में काफी सराहना मिल रही है।