सर्व धर्म समभाव और मानवीयता की मिसाल उस समय देखने को मिली जब वहां एक भारतीय मूल के नागरिक जोगिंदर सिंह सलारिया ने दुबई जेल से रिहा हुए विभिन्न देशों के 13 नागरिकों के लिए अपनी जेब से एयर टिकट खरीदकर दिए। इन सभी क़ैदियों को छोटे-मोटे अपराधों के लिए सजा हुई थी, इन क़ैदियों में अफगानिस्तान सहित बंग्लादेश, यूगांडा, नाइजीरिया, चीन और पाकिस्तान के नागरिक हैं।

Khaleej Times के अनुसार ‘पहल इंटरनेशनल ट्रांसपोर्ट’ और ‘पहल चैरिटेबल ट्रस्ट’ के मैनेजिंग डायरेक्टर भारतीय मूल के कारोबारी जोगिंदर सिंह सलारिया ने दुबई जेल से छूटे 13 कैदियों के लिए हवाई टिकट खरीद कर दिए हैं, ताकि वह अपने अपने अपने देश लौट सकें। इन क़ैदियों के पास अपने वतन लौटने के लिए पैसे नहीं थे

उनका पहल चैरिटेबल ट्रस्ट दुबई पुलिस के साथ कई सामाजिक कार्य करता है। जोगिंदर सिंह सलारिया 1993 से UAE के निवासी हैं और फेसबुक टवीटर और यूट्यूब जैसी सोशल नेटवर्किंग साइटों के माध्यम से पाकिस्तान के नागरिकों की पहले भी कई बार आर्थिक मदद कर चुके हैं।

जोगिंदर सिंह सलारिया ने कहा, “दुबई पुलिस अधिकारियों ने हमें कैदियों के नामों की एक सूची प्रदान की। अधिकांश अपराधियों को मामूली अपराधों जैसे ओवरस्टे मामलों और अपने नियोक्ताओं के साथ छोटे विवाद आदि के लिए जेल में डाल दिया गया था, इन सभी लोगों के लिए एक तरफ की एयर टिकट बुक कर दी गई है। अब ये सभी जल्द ही अपने अपने वतन के लिए रवाना हो जाएंगे।”