लंदन की ट्रेन में एक यहूदी परिवार के साथ हो रहे धार्मिक दुर्व्यवहार को रोकने वाली मुस्लिम महिला असमा शेख की दुनिया में हो रही है तारीफ ।

लंदन की ट्रेन में एक यहूदी परिवार के साथ हो रहे धार्मिक दुर्व्यवहार को रोकने वाली मुस्लिम महिला असमा शेख की दुनिया में हो रही है तारीफ ।
0 0
Read Time4 Minute, 51 Second

पिछले दिनों लंदन की अंडर ग्राउंड ट्रेन में एक यहूदी पिता पुत्र के साथ एक व्यक्ति द्वारा किये गए धार्मिक दुर्व्यवहार को दृढ़ता से रोकने वाली मुस्लिम महिला के साहस और जज़्बे की सोशल मीडिया पर जमकर सराहना की जा रही है।

Daily Mail के अनुसार लंदन में 23 नवम्बर को यूटयूब पर एक वीडियो वायरल हुआ जिसमें अंडर ग्राउंड ट्रैन में सफर कर रहे एक यहूदी पिता पुत्र के साथ एक व्यक्ति धार्मिक दुर्व्यवहार कर रहा है, वो व्यक्ति बाइबिल निकाल कर किसी यहूदी विरोधी हिस्से को पढ़कर उन्हें प्रताड़ित करता धमकियाँ देता नज़र आ रहा है। उस व्यक्ति के इस आक्रामक बर्ताव से यहूदी बच्चा डरा हुआ नज़र आ रहा है जिसे उसके पिता ढारस बंधाने की कोशिश करते नज़र आते हैं।

लेकिन वो यात्री बच्चे के सामने बाइबिल को आगे कर जोर से बात करना जारी रखता है, उसे ऐसा करते देख कुछ लोग बीच-बचाव करने की कोशिश करते हैं तो वो यात्री उन्हें धमकियाँ और गालियां देने लगता है।

तभी एक हिजाब पहने मुस्लिम महिला उस व्यक्ति को ऐसा करने से रोकती नज़र आती है, वो कहती है कि “यहाँ बच्चे हैं, छोडो ये सब।” इसपर वो यात्री असमा शेख से बहस करने लगता है, तब असमा शेख उस व्यक्ति का हाथ पकड़ कर कहती हैं कि मैं आपकी राय का सम्मान करती हूँ। बहसबाज़ी के दौरान अकेली असमा शेख उस यहूदी परिवार की हिफाज़त करने के लिए उस व्यक्ति को समझाती नज़र आती हैं।

असमा शेख का कहना है कि “वो व्यक्ति शायद कोई कट्टर ईसाई था और काफी आक्रामक था वो आक्रामक तौर पर मेरे चेहरे पर आ रहा था। दो बच्चों की माँ होने के नाते मुझे पता है कि ऐसी हालत में बच्चों पर क्या बीतती है।”

वीडियो बनाने और उसे यूट्यूब पर अपलोड करने वाले क्रिस एटकिंस का कहना है कि वो मुस्लिम महिला उस यहूदी परिवार के साथ हो रहे आक्रामक धार्मिक दुर्व्यवहार से हिफाज़त करने के लिए बहादुरी से डटी रही, वास्तव में उसे बहुत हिम्मत और दृढ़ता से काम लिया।”

असमा शेख का कहना है कि “सच कहूँ तो मुझे लगा कि एक माँ के रूप में, एक मुसलमान के रूप में, इस देश के नागरिक के रूप में इस तरह की घटना को रोकना मेरा कर्तव्य है।”

यूट्यूब के बाद ये वीडियो टवीटर पर भी अपलोड हुआ तो लोगों ने असमा शेख की बहादुरी और जज़्बे की दिल खोलकर प्रशंसा की।

साथ ही वो ब्रिटिश मीडिया के साथ दुनिया के बड़े अख़बारों की सुर्खियां बन गईं , लोग उन्हें एक हीरो की तरह सम्मान दे रहे थे।

Jewish News टवीटर हैंडल ने असमा शेख की तारीफ में टवीट करते हुए उनकी बहादुरी की तारीफ की।

एक और टवीटर हैंडल Dave Rich ने टवीट कर आसमा शेख को एक स्टार कहा।

जब वो वीडियो यूट्यूब और टवीटर पर वायरल हुआ तो असमा शेख के परिचितों ने उन्हें इसके बारे में बताया जिन्हे इस बारे में बिलकुल भी पता नहीं था, इसलिए उन्होंने इस घटना पर लोगों की प्रतिक्रियाएं देखने के लिए अपना टवीटर अकाउंट बनाया।

टवीटर पर लोगों की सकारात्मक टिप्पणियां और सराहना देखकर असमा शेख का कहना है कि वो इन सभी लोगों के जज़्बे की क़द्र करती हैं और आगे जब भी मौक़ा मिलेगा वो कभी पीछे नहीं हटेंगी।

ये वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद धार्मिक दुर्व्यवहार करने वाले व्यक्ति को लंदन पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

असमा शेख को इस टवीटर हैंडल पर फॉलो कर सकते हैं।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *