खबर है कि पाकिस्तान सरकार ने समस्त रूप से रूयत-ए-हिलाल कमेटियां भंग कर दीं हैं, Siasat pk की खबर के अनुसार अब चाँद दिखने ना दिखने की आधिकारिक घोषणा की ज़िम्मेदारी Pakistan Meteorological Department (PMD) को हस्तांतरित कर दी गयी है।

स्थानीय रिपोर्ट्स के अनुसार ये क़दम रूयत-ए-हिलाल कमेटियों द्वारा हर बार चाँद दिखने न दिखने को लेकर उत्पन्न विवादों और हंगामों के चलते उठाया गया है, इन विवादों के चलते पाकिस्तान को हर साल करोड़ों का नुकसान होता है।

रिपोर्ट्स में कहा गया है कि पाकिस्तानी मौसम विज्ञान विभाग अपडेट और सुसज्जित है और चाँद दिखने की सटीक गणना कर सकता है।

फोटो साभार : Siasat pk